Home » मध्यप्रदेश » भोपाल » भारत भवन में रूपाभ के तहत एग्जीबिशन
भारत भवन में रूपाभ के तहत एग्जीबिशन

भारत भवन में रूपाभ के तहत एग्जीबिशन

भारत भवन में रूपाभ के तहत मंगरू उईके के चित्रों की प्रदर्शनी

भोपाल। पेड़-पौधे, वन्य प्राणी और अन्य जीव-जन्तु के साथ इंसान से मिलकर प्रकृति बनती है। प्रकृति पूज्यनीय है और कभी भी इस बात को नहीं भूलना चाहिए। भारत भवन में मंगलवार से शुरू हुई युवा जनजातीय चित्रकार मंगरू उईके के चित्र इसी प्रकार का संदेश देते हैं। समकालीन कलाकारों की कृतियों की प्रदर्शनी रूपाभ श्रृंखला के तहत आयोजित की गई। प्रदर्शनी में मंगरू ने कला के माध्यम से प्रकृति की खूबसूरती का बखान किया। इस प्रदर्शनी में उईके के 25 चित्र प्रदर्शित किए गए हैं। जिसमें गोंड़ आर्ट के साथ एक्रेलिक कलर्स का इस्तेमाल किया गया है। प्रदर्शनी 28 दिसम्बर तक दोपहर 1 बजे से रात 7 बजे तक कला प्रेमियों के लिए खुली रहेगी।

वृक्षों का है प्रमुख स्थान

मंगरू ने अपने चित्रों में वन और वृक्षों को प्रमुखता से स्थान दिया है। इसमें उन्होंने प्रकृति रूपी महिला दिखाई है। जिसकी शाखाओं पर पक्षी अपना डेरा डाले बैठे हैं। वहीं उन्होंने एक चित्र में दिखाया कि कुछ जंगली जानवर वृक्ष के लिपट कर बचाने का प्रयास कर रहे हैं। इसी प्रकार बारहसिंगा के सींगों को उन्होंने वृक्ष के रूप में दिखाया है। मंगरू कहते हैं कि हम लोग अपने देवताओं का वास वृक्षों में मानते है। यही वजह है कि प्रकृति के प्रति हमारा लगाव इतना ज्यादा होता है। यही प्रकृति हमें खाने और जीने की राह दिखाती है।
– Source www.naidunia.jagran.com

Check Also

भोपाल - पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की समीक्षा बैठक सम्पन्न

भोपाल – पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की समीक्षा बैठक सम्पन्न

भोपाल – कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आज मुख्य कार्यपालन अधिकारी पंचायत श्री हरजिन्दर सिंह की अध्यक्षता …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *