Home » मध्यप्रदेश » भोपाल » दिग्गजों ने झोंकी ताकत
दिग्गजों ने झोंकी ताकत

दिग्गजों ने झोंकी ताकत

भोपाल। प्रदेश के चारों प्रमुख नगर निगम पर कब्जे के लिए भाजपा ने प्रचार के आखिरी दौर में सारी ताकत झोंक दी है। भोपाल में प्रचार का शोर थमने के पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान गुरुवार को १० से ज्यादा वार्डों में रोड-शो करेंगे।

इसके अलावा संगठन ने भी बूथ मैनेजमेंट फॉर्मूले के हिसाब से जमीनी रणनीति तैयार कर ली है। ज्यादा वोटिंग पर सारा जोर है। पंचायत चुनाव में भाजपा को मिली हार ने संगठन को चौंका दिया है।

नगरीय निकाय में भी इसका असर पड़ सकता है, क्योंकि इन शहरों में परिसीमन के बाद ऐसे गांव शामिल हो गए हैं, जो कांग्रेस का गढ़ रह चुके हैं। संगठन ने पुराने के साथ ही नए वार्डों के लिए पूरी रणनीति तैयार की है, ताकि मेयर के साथ ही परिषद पर कब्जा हो सकें।
भोपाल में फिर रोड-शो
भोपाल में टक्कर रोचक हो गई है। कांग्रेस द्वारा फिल्म स्टार और बड़े नेताओं को मैदान में उतारने के बाद आखिरी वक्त पर भाजपा ने रणनीति में थोड़ा बदलाव किया है। मुख्यमंत्री प्रचार थमने के आखिरी दिन नरेला विधानसभा में रोड-शो करेंगे। सीएम तीन से चार घंटे क्षेत्र में देंगे, क्योंकि संगठन की नजर में इस विधानसभा से पार्टी को नुकसान हो सकता है। कुछ विधायकों की नाराजगी के मद्देनजर संगठन ने सारी विधानसभाओं में रोड-शो करवाए।

सीएम की मौजूदगी में विधायकों को भी मैदान में खुलकर उतरना पड़ा है। मंत्री भूपेंद्र सिंह दो दिन इंदौर में डटे रहे। आखिरी दिन २० से ज्यादा मंत्रियों को चारों शहरों में सभाएं करने के लिए तैनात किया गया है। बूथ मैनेजमेंट के लिए संगठन महामंत्री अरविंद मेनन ने कमान संभाल रखी है।

वे इंदौर, जबलपुर व छिंदवाड़ा में जमीनी कार्यकर्ताओं की बैठकें कर चुके हैं। वोटिंग वाले दिन भोपाल में ही मैदानी जमावट पर नजर रखेंगे। मेनन ने बूथवार पेज प्रमुखों को ज्यादा वोटिंग कराने की जिम्मेदारी सौंप दी है। इनके उपर भी प्रभारी बनाए गए हैं।
source www.patrika.com

Check Also

भोपाल - पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की समीक्षा बैठक सम्पन्न

भोपाल – पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की समीक्षा बैठक सम्पन्न

भोपाल – कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आज मुख्य कार्यपालन अधिकारी पंचायत श्री हरजिन्दर सिंह की अध्यक्षता …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *