Home » मध्यप्रदेश » भोपाल » सारडा ग्रुप ने सरेंडर किए 91 करोड़
सारडा ग्रुप ने सरेंडर किए 91 करोड़

सारडा ग्रुप ने सरेंडर किए 91 करोड़

भोपाल (ब्यूरो)। छत्तीसगढ़ सहित देश भर में फैले सारडा एनर्जी एंड मिनरल्स के ठिकानों पर पांच-छह दिन चली आयकर छापामारी के बाद ग्रुप की ओर से 91 करोड़ रुपए सरेंडर किए गए हैं। विभिन्ना बैंकों में स्थित 15 बैंक लॉकरों का खुलना अभी बाकी है। मुख्य ऑफिस के ठिकाने पर विभाग ने पीओ (प्रतिबंधात्मक आदेश) लगा दिया है। कुछ दिन बाद उस हिस्से में रखे दस्तावेजों की फिर छानबीन की जाएगी।

आयकर विभाग की छानबीन के दौरान ग्रुप के विभिन्ना ठिकानों से बड़ी संख्या में ऐसे दस्तावेज बरामद हुए हैं जिनमें बड़ी रकम का हिसाब दर्ज है। इसके आधार पर भारी भरकम टैक्स चोरी का मामला बन रहा है। शुरूआती तौर पर ग्रुप ने विभाग के समक्ष अपनी 91 करोड़ रुपए की अघोषित संपत्ति का खुलासा कर दिया है। इस राशि पर वह टैक्स एवं जुर्माना देने को तैयार है। इसके अलावा दस्तावेजों में शेयर कैपिटल, बोगस बिलिंग एवं बड़े निवेश की जो जानकारियां मिली हंै, उनकी जांच कराई जा रही है।

अगले सप्ताह खुलेंगे लॉकर

ग्रुप संचालकों के नाम पर विभिन्ना बैंकों में जो लॉकर मौजूद हैं, अगले सप्ताह उन्हें खोलकर देखा जाएगा। इनमें बेशकीमती ज्वेलरी होने की संभावना जताई गई है। घरों से मिली ज्वेलरी का मूल्य दो करोड़ से ज्यादा आंका गया है। लॉकरों से मिलने वाली ऐसी संपत्ति जो विभाग के सामने घोषित नहीं की गई है, उसे भी असेसमेंट में जोड़ा जाएगा।

ग्रुप के प्रमुख ऑफिस के एक हिस्से में आयकर विभाग ने पीओ लगा दिया है क्योंकि स्वास्थ्य संबंधी कारणों से एक संचालक को अस्पताल में भर्ती होना पड़ा था जिससे छानबीन रोकना पड़ी। अब जल्दी ही वहां भी छानबीन कर पीओ हटा दिया जाएगा। इस बीच विभाग ने संचालकों के बयान रिकॉर्ड कर लिए गए हैं।

150 करोड़ की शेयर कैपिटल

छापे के दौरान मिले कुछ दस्तावेजों पर अभी विभाग को स्पष्ट जानकारी नहीं मिल पाई है। इसमें करीब 150 करोड़ रुपए के शेयर कैपिटल का मामला है। बताया जाता है कि इस रकम का बड़ा हिस्सा विदेशी कंपनियों से लाया गया लेकिन इस राशि के बारे में ग्रुप की ओर से कोई समाधानकारक जवाब नहीं दिया गया। दस्तावेजों की स्क्रूटनी के दौरान विभाग इस संबंध में संबंधित विदेशी कंपनियों की तहकीकात भी करेगा।

उल्लेखनीय है कि सारडा ग्रुप का स्पंज आयरन, पॉवर, टीएमटी बार, फेरो अलाय एवं ईको ब्रिक्स के क्षेत्र में अरबों रुपए का कारोबार फैला हुआ है। आयकर विभाग ने ग्रुप के सीएमडी कमल किशोर सारडा सहित पंकज सारडा एवं घनश्याम दास मूंदड़ा साहित अन्य संचालकों से लंबी पूछताछ की है
source www.naidunia.com

Check Also

भोपाल - पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की समीक्षा बैठक सम्पन्न

भोपाल – पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की समीक्षा बैठक सम्पन्न

भोपाल – कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आज मुख्य कार्यपालन अधिकारी पंचायत श्री हरजिन्दर सिंह की अध्यक्षता …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *