Home » मध्यप्रदेश » भोपाल » भोपाल : सिमी के गुर्गे को कांग्रेस ने दे दिया नपा अध्यक्ष का टिकट, गुड्डू और गोविंद सिंह का इस्तीफा!
भोपाल : सिमी के गुर्गे को कांग्रेस ने दे दिया नपा अध्यक्ष का टिकट, गुड्डू और गोविंद सिंह का इस्तीफा!

भोपाल : सिमी के गुर्गे को कांग्रेस ने दे दिया नपा अध्यक्ष का टिकट, गुड्डू और गोविंद सिंह का इस्तीफा!

भोपाल। नगरीय निकाय चुनाव में कांग्रेस अपनों की राजनीति में फंस गई है। प्रदेश उपाध्यक्ष मानक अग्रवाल के बाद अब पूर्व सांसद प्रेमचंद गुड्डू और विधायक डॉ. गोविंद सिंह ने सभी पदों से इस्तीफा दे दिया है।

स्थानीय निकाय चुनावों के लिए बनाई गई प्रदेश कांग्रेस की चुनाव समिति से बाहर किए गए पूर्व सांसद प्रेमचंद गुड्डू ने नाराज होकर सभी पदों से इस्तीफा दे दिया है। वहीं विधायक डॉ. गोविंद सिंह ने भी सभी पद त्याग दिए हैं। गोविंद सिंह का चुनाव समिति का बाद में नाम जोड़ा गया था।

सिमी के सदस्य को टिकट
सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस ने उज्जैन जिले की महीदपुर नगर पालिका से जिस कय्यूम नागौरी को टिकट दिया है, उस पर सिमी आतंकवादियों को मदद पहुंचाने का आरोप है। कय्यूम सिमी आतंकवादी सफदर नागौरी का रिश्तेदार है। कय्यूम पर जिलाबदर की कार्रवाई विचाराधीन है। बताया जाता है कि, गुड्डू ने इसी से नाराज होकर पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा दिया है, हालांकि वे सिर्फ यह कहते हैँ कि, टिकट वितरण में गड़बडी़ हुई है।

इसलिए गुड्डू को नहीं मिली थी जगह…
चुनाव समिति में पूर्व सांसद प्रेमचंद गुड्डू को जगह नहीं मिली है। उन्होंने निकाय चुनाव को लेकर कांग्रेस की कवायद पर सवाल उठाते हुए प्रदेश प्रभारी मोहन प्रकाश को खत लिखा था। उन्होंने प्रदेशाध्यक्ष अरुण यादव की टिकट वितरण प्रक्रिया पर सवाल उठाए थे।

गोविंद सिंह इसलिए नाराज…
डॉ. गोविंद सिंह का आरोप है कि भिंड में कांग्रेस के पूर्व विधायक माखनलाल जाटव की हत्या के आरोपी तेजनारायण शुक्ला के परिवार से महिला को पार्षद का टिकट देकर पार्टी ने गलती की है।

शुक्ला का अारोप…
तेजनारायण शुक्ला का कहना है कि, लोकदल से आए डॉ. सिंह कांग्रेस को खत्म करके बीजेपी में जाना चाहते हैं। उन्होंने कहा, हमारे ताऊजी स्व. मुकुटबिहारी लाल शुक्ला स्वतंत्रता संग्राम सेनानी थे। वे 25 तक ब्लॉक कांग्रेस के अध्यक्ष रहे। वार्ड से कोई अन्य दावेदार न होने से भाभी को टिकट दिया गया। उन्होंने आरोप लगाया है कि, डॉ. सिंह ने गोहद से एक 307 के आरोपी को टिकट दिलवाया है। वे मुझे हत्यारा कहने वाले होते कौन हैं? अभी यह मामला कोर्ट में विचाराधीन है।

उल्लेखनीय है कि निकाय चुनाव समिति में बाद में डॉ. गोविंद सिंह का नाम जोड़ा गया था। हालांकि पार्टी इसे टाइपिंग की गलती मान रही थी, लेकिन सूत्रों के मुताबिक, डॉ. गोविंद सिंह नेता प्रतिपक्ष सत्यदेव कटारे के खिलाफ बोलते आए हैं, इसलिए उन्हें समिति से बाहर रखा गया था, लेकिन बाद में ‘विशेष परिस्थितियों’ के चलते उनका नाम जोड़ दिया गया।
Source www.dainikbhaskar.com

Check Also

भोपाल - पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की समीक्षा बैठक सम्पन्न

भोपाल – पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की समीक्षा बैठक सम्पन्न

भोपाल – कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आज मुख्य कार्यपालन अधिकारी पंचायत श्री हरजिन्दर सिंह की अध्यक्षता …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *