Home » समाचार » व्यापमं घोटाले की जांच से जुड़े दस्तावेज आरोपियों के पास कैसे पहुंचे?
व्यापमं घोटाले की जांच से जुड़े दस्तावेज आरोपियों के पास कैसे पहुंचे?

व्यापमं घोटाले की जांच से जुड़े दस्तावेज आरोपियों के पास कैसे पहुंचे?

भोपाल। व्यापमं घोटाले की आंच ठंडी हो हो कर फिर जल उठ रही है। घोटाले की जांच कर रही एजंसी पर ही सवाल उठ गया है। अब जांच एजंसी की संदिग्ध भूमिका को लेकर सवाल उठा है। सवाल है कि जांच से जुड़े दस्तावेज हाल ही गिरफ्तार किए गए युवकों के पास कैसे पहुंच गए। जिससे जांच कर रही टीम एसटीएफ की भूमिका पर सवाल उठने लगे है। वहीं मध्य प्रदेश में विपक्षी पार्टी कांग्रेस के नेता सत्यदेव कटारे ने सवाल उठाया है कि एक होटल में गिरफ्तार किए गए दो युवकों के पास जांच से जुड़े दस्तावेज कहां से आए। व्यापम घोटाले की एसटीएफ द्वारा की जा रही जांच पर नेता प्रतिपक्ष सत्यदेव कटारे ने भी सवाल उठाया। सत्यदेव कटारे ने कहा कि एमपी नगर निगम की एक होटल में गिरफ्तार किए गए दो युवकों के पास से व्यापमं घोटाले से जुड़ी जांच के दस्तावेज थे। गिरफ्तार किए प्रशांत पांडे और सोनू पवार के पास से यह दस्तावेज मिले हैं। यह दोनो व्यवसायिक परीक्षा मंडल घोटाले में लिप्त के आरोप में गिरफ्तार किए गए हैें। हाईकोर्ट की निगरानी है जांच सत्यदेव ने इस ओर भी इशारा किया कि घोटाले की जांच हाईकोर्ट की निगरनी में चल रही है। ऐसे में ऐसे कैसे संभव हुआ कि जांच से जुड़े दस्तावेज लीक हो जाएं। उन्होंने इसको लेकर जांच एजेंसी पर प्रश्न पूछने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि जांच एजेंसी की भी जांच होनी चाहिए।

Check Also

भोपाल - पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की समीक्षा बैठक सम्पन्न

भोपाल – पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की समीक्षा बैठक सम्पन्न

भोपाल – कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आज मुख्य कार्यपालन अधिकारी पंचायत श्री हरजिन्दर सिंह की अध्यक्षता …

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *